Saturday, August 27, 2016

बदलाव करके देख / Badlaav Kar ke Dekh

शब्दों के इत्तेफाक़ में 
           बदलाव करके देख ...

तू देख कर न मुस्कुरा...
           बस मुस्कुरा के देख ...



Shabdon ke Ittefaaq me 
                   Badlaav Kar ke Dekh 

Tu Dekh kar Na Muskura 
                 Bus Muskura ke Dekh


1 comment:

दर्पण की शिक्षा

पुराने जमाने की बात है। एक गुरुकुल के आचार्य अपने शिष्य की सेवा भावना से बहुत प्रभावित हुए। विद्या पूरी होने के बाद शिष्य को विदा करते समय ...