Sunday, July 30, 2017

मांगी थी इक कली Maangi Thi ik Kali

मांगी थी इक कली - तुम ने  हार दे दिया
चाही थी एक धुन - तुम ने सितार दे दिया
झोली तो मेरी थी बहुत छोटी सी मगर 
हंस के तुमने सारा ही संसार दे दिया 

Maangi thi ik kali - Tum nay haar de diya 
Chaahi thi aik dhun - tum nay Sitar de diya 
Jholi to meri thi bahut chhoti see, magar 
Hans kay tumnay saara hi sansaar de diya 




1 comment:

  1. True..We should always count the blessings we have...

    ReplyDelete

ज़ाहिर है तेरा हाल सब

‘ग़ालिब’ न कर हुज़ूर में तू  अर्ज़  बार बार  ज़ाहिर है  तेरा हाल सब उन पर  कहे बग़ैर