Thursday, January 8, 2015

Watch your thoughts.


Whatever we continually think about, eventually will manifest in our lives.


No comments:

Post a Comment

पंद्रह सैनिक और चाय की दुकान

              " जम्मू और काश्मीर के कूपवाड़ा क्षेत्र के एक सैनिक द्वारा सुनाई गयी एक सच्ची कहानी " एक मेजर के नेतृत्व में पंद्र...