Sunday, January 25, 2015

आईने में आती है सूरत नज़र


आईने में आती है सूरत नज़र
देखे जो, वोही नजर नहीं आता 

मांगूं तो भर जाए  है झोली मेरी 
देने वाला कहीं नजर नहीं आता

सोचूँ तो इसके सिवा कुछ भी नहीं
देखूं तो कुछ भी नजर नहीं आता 

​जब भी पाता हूँ मैं तुमको रूबरू 
दूसरा कोई नज़र नहीं आता 

देखा है दुनिया को 'राजन' बारहा
आप सा कोई नजर नहीं आता 


2 comments:

Be-Matalab Nahin Ye Nazar Kay Ishaaray

Nazar neechee huyi to hayaa ban gayi  Nazar oopar uthi to duaa ban  gayi    Nazar uth ke jhuki to adaa ban  gayi  Nazar jhuk ke uthi to...